सावन में हरी सब्जियों से दूर रहें

Posted by:
Published: Saturday, July 23, 2011, 14:28 [IST]

सावन.के महीने के बारे में हमारे पुराणों से लेकर साहित्य तक में बहुत कुछ लिखा हुआ है। जहां धर्म के हिसाब से इसे पवित्र महीना माना जाता हैं वहीं दूसरी ओर हमारे लेखकों और कवियों ने इसे प्रेम के महीने की उपमा दी है।

इस मौसम में कुदरत भी हरा दामन ओढ़ लेती है। जहां घर के बड़े बुजुर्ग इस मौसम में छोटों को कहते हैं कि वो प्रकृति की तरह अपने आपको भी हरे रंग से सजा लें, वो हरे रंग के कपड़े पहने, हरी चूडियां पहनें, हाथों में मेंहदीं लगायें लेकिन वहीं वो हरी सब्जियों का सेवन ना करने की सलाह देते हैं।

क्योंकि उनका कहना होता है कि सावन शिव जी का प्रिय महीना है इसलिए इस मौसम में हरे रंग का प्रयोग सिर्फ उन्हें प्रसन्न करने के लिए होता है, इसलिए वो छोटों को हरी सब्जियों से दूर रहने का सुझाव देते हैं।

लेकिन वहीं अगर हम अपने डॉक्टरों और वैज्ञानिकों की मानें तो इसके पीछे कारण ये है कि सावन में बारिश बहुत होती है इसलिए इस मौसम में हरे पत्तेदार सब्जियों से दूर रहना चाहिए क्योंकि उनमें कीड़े काफी भारी मात्रा में मौजूद होते हैं। इसके अलावा पत्तेदार सब्जियों में कीटनाशकों का प्रयोग भी बहुतायत में होता है, जो बीमारियों की जड़ है। इसलिए डॉक्टर सावन यानी बरसात में हरी सब्जियां खाने से रोकते हैं।

;
Story first published: Saturday, July 23, 2011, 14:28 [IST]
Topics: धर्म, हिन्दू, मंदिर, सावन, बरसात, सब्जियां, rain, religion, hindu, temple, sawan, vegetable